इस महिला की वजह से भुवनेश्‍वर बना पाए 5 विकेट का यह रिकॉर्ड तस्वीर देख कर हो जायेंगे हैरान

0
381
मां व पत्‍नी नहीं बल्कि इस महिला की वजह से भुवनेश्‍वर बना पाए 5 विकेट का यह रिकॉर्ड

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी-20 मैच में रविवार को स्विंग के सुल्‍तान भुवनेश्‍वर कुमार ने पांच विकेट लेकर एक रिकॉर्ड बना दिया। वह क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में पांच विकेट लेने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। इतना ही नहीं सीरीज के पहले टी-20 मैच में उन्‍हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया। टी-20 में भारत की तरफ से सबसे ज्‍यादा छह विकेट लेने का रिकॉर्ड युजवेंद्र चहल के नाम है। रविवार को हुए मैच में भुवनेश्‍वर कुमार के पांच विकेट और धवन के 72 रन की बदौलत भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 28 रन से शिकस्‍त दी।

नवंबर में हुई है शादी

भारतीय क्रिकेट टीम के उभरते हुए स्टार भुवनेश्वर कुमार मेरठ के रहने वाले हैं और अभी पिछले साल नवंबर में ही उनकी शादी हुई है। उन्‍होंने काफी कम समय में सफलता की सीढ़ियां पार की हैं। बल्कि अब तो भारतीय क्रिकेट टीम की कल्पना भी भुवनेश्‍वर के बिना करनी मुश्किल है। अब हम अापको बताते हैं क‍ि उनकी सफलता के पीछे किसका हाथ है। भुवनेश्वर की सफलता के पीछे कोई और नहीं बल्कि उनकी बड़ी बहन है। उन्हीं के जज्बे की वजह से ही स्‍टार गेंदबाज ने कड़ी मेहनत कर हर बड़े बल्लेबाज को झुकने को मजबूर कर दिया है।

इस तरह भार्इ को बनाया स्टार

भुवनेश्वर के पिता किरनपाल सिंह बागपत में पुलिस विभाग में सब-इंस्पेक्टर थे और बागपत में तैनाती थी। उन्‍हें रेखा और भुवनेश्वर को अच्छी शिक्षा दिलानी थी, इसलिए उन्होंने 2002 में गंगानगर में मकान बनवा लिया। यहां पत्नी इंद्रेश, बेटी रेखा और बेटा भुवनेश्वर रहने लगे। पिता छुट्टियों में यहां आया करते थे। क्रिकेट का शौक भुवनेश्वर के साथ ही पिता और बहन को भी था, लेकिन माता को नहीं था। पिता के पास समय नहीं था। उस समय 13 साल की उम्र में भुवनेश्वर के क्रिकेट के प्रति बढ़ते शौक को देखकर रेखा ने उसे क्रिकेट सिखाने का फैसला किया। विक्टोरिया पार्क में उन दिनों काफी बच्चे क्रिकेट सीखते थे, तो वह भुवनेश्वर को भी वहां लेकर गई।

READ  Yogi Adityanath says I am a Hindu,no Reason to Celebrate Eid.

दिल्‍ली में है ससुराल

भुवनेश्‍वर के कोच संजय रस्तोगी का कहना है कि जब भुवनेश्वर यहां आया था, तो उसमें काफी टैलेंट था। जब हमने सिखाना शुरू किया था, तो उसकी बहन उसकी प्रोग्रेस के बारे में लगातार डिस्कस करती थी और भुवनेश्वर से और मेहनत करने के लिए कहती थी। उसे क्रिकेट के सामान की जरूरत होती थी, तो अपने पैसों से दिलवा देती थी। अब भुवनेश्वर टीम इंडिया के सबसे बड़े बॉलर बन गए हैं, तो भी बहन उसे कड़ी मेहनत करने की सलाह देती है। रेखा की ससुराल दिल्ली में है। ऐसे में दिल्ली में जितने मुकाबलों में भुवनेश्वर खेले हैं, उन्हें रेखा स्टेडियम में जाकर जरूर देखती हैं।