नवरात्रि 2018: जानें, किस दिन होगी नवदुर्गा के किस रूप की पूजा

0
375
नवरात्रि 2018: जानें, किस दिन होगी नवदुर्गा के किस रूप की पूजा

18 मार्च से चैत्र नवरात्रि का आरंभ हो रहा है। इस दौरान नवदुर्गा के 9 रूपों की आराधना होगी। हर दिन मां के अलग-अलग रूप को समर्पित है। नवरात्र की नौ देवियां हमारे संस्कार एवं आध्यात्मिक संस्कृति के साथ जुड़ी हुई हैं। ईश-साधना और आध्यात्म का अद्भुत संगम है जिसमें देवी दुर्गा की कृपा की बरसात होती है। जानें, किस दिन होगी नवदुर्गा के किस रूप की पूजा

18 मार्च- नवरात्रि के प्रथम दिवस घट स्थापना, कलश स्थापना, ध्वजारोहण, श्री दुर्गा पूजा होगी और नवदुर्गा के पहले स्वरुप मां शैलपुत्री का पूजन होगा।

19 मार्च- नवरात्रि के द्वितीय दिवस मां ब्रह्राचारिणी का पूजन और चंद्र दर्शन होगा। रात्रि 8 बज कर 9 मिनट पर पंचक समाप्त होगी।

20 मार्च- तृतीय दिवस देवी दुर्गा के चन्द्रघंटा रूप की पूजा होगी। इसके अतिरिक्त गणगौरी तृतीया, गणगौरी (गौरी) तीज व्रत, सौभाग्य तृतीया मनोरथ तृतीया और आंदोलन तृतीया पर्व भी मनाया जाएगा।

21 मार्च- नवरात्रि के चौथे दिवस मां कूष्मांडा की पूजा होगी। इसके अतिरिक्त श्री पंचमी, श्री लक्ष्मी पंचमी और दमनक चतुर्थी भी मनाई जाएगी।

22 मार्च- नवरात्रि के पंचम दिन मां स्कंदमाता की उपासना होगी। इसके साथ ही नाग पंचमी, स्कंद षष्ठी और श्री राम राज्य महोत्सव मनाया जाएगा।

23 मार्च- छठे दिन मां कात्यायनी की आराधना होगी।

24 मार्च- इस दिन सातवां और आठवां नवरात्रि एकसाथ पड़ रहे हैं। सातवें नवरात्रि की देवी मां कालरात्रि के साथ आठवें नवरात्रि की देवी महागौरी की पूजा भी होगी। कन्या पूजन भी किया जाएगा। श्री दुर्गा अष्टमी (प्रात: 10 बज कर 6 मिनट के बाद)

25 मार्च- नवम दिन मां के सिद्धिदात्री स्वरुप का पूजन होगा, राम नवमी, श्री रामनवमी व्रत, भगवान श्री रामचंद्र जी का जन्म उत्सव (श्री दुर्गाष्टमी प्रात: 8 बजकर 3 मिनट तक बाद में नवमी) और श्री राम अवतार जयंती चैत्र नवरात्रे समाप्त।

READ  आखिर क्यों भगवान विष्णु 4 महीने तक सोते रहते हैं, जानिए इसके पीछे का रहस्य

26 मार्च- दशमी के दिन नवरात्रि व्रत का पारण होगा।