बालाकोट एयरस्ट्राइक पर विदेशी पत्रकार ने किया बड़ा दावा, जानकर आप हो जायेंगे हैरान

0
125

बालाकोट एयरस्ट्राइक : विदेशी पत्रकार फ्रांसेस्का का दावा, अब भी अस्पताल में हैं 45 आतंकी

नई दिल्लीः 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय वायु सेना द्वारा किए गए एयरस्ट्राइक पर इटली के एक पत्रकार ने बड़ा खुलासा किया है. जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आत्‍मघाती हमले के 13 दिन पश्चात् भारत ने बालाकोट में एयर स्ट्राइक की थी. विपक्ष इसको लेकर आज भी सवाल उठा रहा है. पाकिस्‍तान शुरू से कह रहा है कि वहां सिर्फ 3 कौवे मरे थे और कुछ पेड़ गिरे थे. हालांकि BJP सुप्रीमो अमित शाह ने दावा करते हुए कहा था कि 350 से ज्यादा आतंकी हमले में मारे गए थे.

इस बीच इटली की एक पत्रकार इस घटना का पूरा विवरण छापकर पूरी दुनिया को हैरान कर दिया है. पत्रकार ने लिखा है कि भारतीय वायु सेना ने तड़के साढ़े तीन बजे हमला किया. मेरी सूचना के मुताबिक, शिंकयारी आर्मी कैंप से सेना की एक टुकड़ी घटनास्थल पर पहुंची. फ्रेंसेसा मैरिनो के मुताबिक 170 आतंकी मारे गए थे.

मैरिनो विस्‍तार से बताते हैं, ‘सेना की टुकड़ी हमले के दिन सुबह 6 बजे घटनास्थल पर पहुंची. शिंकयारी बालाकोट से 20 किलोमीटर दूर है और यह पाकिस्तान आर्मी का बेस कैंप और पाकिस्तानी सेना की जूनियर लीडर्स एकेडमी भी है. आर्मी की टुकड़ी के बालाकोट पहुंचते ही वहां से कई जख्मी लोगों को पाकिस्तान आर्मी के अस्पताल पहुंचाया गया. स्थानीय सूत्रों के मुताबिक आर्मी कैंप के अस्पताल में अभी भी 45 लोगों का इलाज चल रहा है. इलाज के दौरान 20 लोगों की मौत हो चुकी है.

पत्रकार ने बताया कि ‘इलाज के बाद जो लोग ठीक हो गए हैं उन्हें पाकिस्तान आर्मी ने अपनी कस्टडी में रखा है और उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज नहीं किया गया है. कई हफ्तों में छानबीन कर अपने सोर्स के माध्यम से जो जानकारी मैंने जुटाई है, उसके मुताबिक कहा जा सकता है कि हमले में जैश-ए-मोहम्मद के कई कैडर मारे गए हैं. मृतकों की संख्या 130-170 तक हो सकती है. इसमें वे लोग भी हैं जिनकी मौत इलाज के दौरान हुई है.