मेरठ की क्रांति के महानायकों ने दी आजादी के आंदोलन को सकारात्मक दिशा

0
252

मेरठ : क्रांति दिवस पर गुरुवार को दिनभर शहर में विभिन्न संगठनों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। प्रशासनिक कार्यक्रम का आयोजन सुबह प्रभात फेरी के साथ हुआ। अन्य कार्यक्रमों में स्वतंत्रता संग्राम के अमर शहीदों का याद किया गया। इसमें युवाओं ने बड़ी संख्या में भागीदारी की।

क्रांतिकारी धरा पर गुरुवार को प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के अमर शहीदों को गर्व से याद किया गया। विभिन्न स्कूलों के छात्र-छात्राएं, एनसीसी कैडेट, स्काउट गाइड, राष्ट्रीय सेवा योजना, सिविल डिफेंस, बैंड बाजे से सजी फेरी विभिन्न मार्ग से होते हुए शहर स्मारक पर पहुंची। डीएम अनिल ढींगरा ने गांधी आश्रम से प्रभात फेरी का शुभारंभ महात्मा गांधी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर किया।

क्रांति के महानायकों से प्रेरणा लें युवा

डीएम ने कहा कि विश्व में मेरठ की महान पहचान क्रांतिधरा के रूप में है। यहां डीएम सहित अन्य अधिकारियों और समाज सेवी संगठनों के पदाधिकारियों ने मंगल पाडेय की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। पहचान को पुख्ता करने के लिए हमें अमर शहीदों के बलिदान से प्रेरणा लेकर बिना भेदभाव देश की एकता और अखंडता के लिए काम करने चाहिए। अध्यक्षता करते हुए गांधी वादी विचारक धर्म दिवाकर ने कहा कि मेरठ कौमी एकता का प्रतीक है। संचालन जब्बार अहमद एडवोकेट ने किया। इस दौरान एडीएम सिटी मुकेश चंद्र, नगर मजिस्ट्रेट अवधेश सिंह, डीडीओ अतुल मिश्रा, पीडी भानू प्रताप सिंह, एसीएम अमिताभ यादव, जिला स्वतंत्रता संग्राम सेनानी परिषद के महासचिव केपी सिंह, महेंद्र धानक आदि मौजूद रहे।

कांग्रेस ने याद किए अमर शहीद
क्रांति दिवस पर बाबा औघड़नाथ मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में कांग्रेस महानगर कमेटी ने भी शिरकत की। महानगर अध्यक्ष किशन कुमार किशनी शबी खान, मोहन शर्मा, सैयद सलीमउददीन शाह, राकेश कुशवाह, हरि किशन आंबेडकर आदि मौजूद रहे।

READ  जाने किस बॉलीवुड सिंगर ने की खुदखुशी , पूरा बॉलीवुड है शोक में