आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत काकोरी ट्रेन एक्शन की स्मृति में भव्य कार्यक्रम

0
28

मेरठ। काकोरी की कथा सुनाऊं जिसमें कई दिवाने थे।। आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत काकोरी ट्रेन एक्शन की स्मृति मे शहीद स्थल पर प्रशासनिक अधिकारियों ने शहीदों की स्मृति में दीप प्रज्ज्वलन किया। आईटीआई साकेत से एक तिरंगा यात्रा निकाली गयी जो कि कार्यक्रम स्थल चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के बृहस्पति भवन पर जाकर समाप्त हुई। कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों व वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों ने स्वतंत्रता संग्राम सैनानियों, उनके परिजनों व शहीदों के परिजनों को सम्मानित किया। इस अवसर पर लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम का सजीव प्रसारण किया गया। सैल्फी पांइट मुख्य आकर्षण का केन्द्र रहा। इस अवसर पर राष्ट्रगान, राष्ट्रगीत,काव्य पाठ व सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुए।
चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के बृहस्पति भवन में आयोजित भव्य कार्यक्रम में लखनऊ के काकोरी शहीद स्मारक में आयोजित कार्यक्रम का सजीव प्रसारण किया गया। जिसमें राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने कहा कि वह इस कार्यक्रम में प्रतिभाग कर गर्व का अनुभव कर रही हैं। उन्होंने कहा कि यहां शहीदों को सम्मान दिया गया। उन्होंने कहा कि हमें अपने गौरवशाली इतिहास को हमेशा याद रखना चाहिए।
मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने सर्वप्रथम अमर शहीदों को नमन किया। उन्होंने कहा कि 4 फरवरी 2021 को गोरखपुर से चौरी-चौरा शताब्दी समारोह का शुभारंभ किया गया। जिसमें प्रधानमंत्री का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। उन्होंने कहा कि काकोरी ट्रेन एक्शन में देश के सपूतों ने रू0 4600 प्राप्त किये जबकि अंग्रेजों ने उनको सजा दिलाने तक रू0 10 लाख व्यय किये। यह उनकी मूर्खता का उदाहरण है। उन्होंने कहा कि क्रांतिकारियों को यातनाएं दी गयी। जिसे उन्होंने देश की खातिर हंसकर सहा। उन्होंने कहा कि हर जाति और वर्ग के लोगों ने स्वतंत्रता आंदोलन में बढ चढकर भाग लिया।
वहीं चौधरी चरण सिंह वि0वि0 के बृहस्पति भवन में आयोजित कार्यक्रम में विधायक सत्यवीर त्यागी, एमएलसी सरोजिनी अग्रवाल, आयुक्त सुरेन्द्र सिंह, जिलाधिकारी के0 बालाजी ने स्वतंत्रता संग्राम सैनानियों व उनके परिजनों तथा शहीद सैनिकों के परिजनों को शाॅल भेंटकर व पौधा देकर सम्मानित किया। जिसमें स्वतंत्रता संग्राम सैनानी अमर नाथ गुप्ता, परिजनों में महेन्द्र कुमारी, सुश्री सुशीला सिंह, मौहम्मद साजिद, भूदेव शर्मा, उदयवीर, रामरतन, कृष्ण कोलरा, विमल किशोर, दीपेन्द्र जैन, गिरीश कुमार, हरदीप सिंह जग्गी, दिलीप कुमार वर्मा, के0 पी0 सिंह, चंद्रवती, श्रीमती सरोज देवी, दिलीप कुमार, बलजोरी देवी व श्रीमती मनभरी शामिल रहे। शहीद सैनिको के परिजनों में रेखा देवी पत्नी शहीद शांतनु सिंह, अबरीशा खातून पत्नी शहीद अजमेर अली, प्रभा कुमारी पत्नी शहीद सोहनवीर, सुनीता देवी पत्नी शहीद देवेन्द्र कुमार, मीनू पत्नी शहीद अनिल कुमार तोमर है।
जिलाधिकारी के0 बालाजी ने कहा कि जनपद में चौरी-चौरा शताब्दी समारोह के अंतर्गत कार्यक्रम कराये गये तथा आजादी की लड़ाई से संबंधित प्रमुख स्थानों पर विशिष्ट कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि जनपद में अमर जवान ज्योति को प्रज्जवलित कराया जायेगा। शहीद स्मारक पर जीर्णोद्धार का कार्य चल रहा है।
वहीं कार्यक्रम से पूर्व जिलाधिकारी, एडीजी, आईजी, एसएसपी ने राजकीय स्वतंत्रता संग्राम संग्रहालय शहीद स्थल पर शहीदों की स्मृति में दीप प्रज्ज्वलन किया व उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की। इस अवसर पर रंग-बिरंगे गुब्बारे हवा में छोड़कर अनेकता में एकता का संदेश दिया।
इस अवसर पर एसडी सदर इंटर कालेज के छात्रो द्वारा ऐ मेरे वतन के लोगों, तुम खूब लगा लो नारा, यह शुभ दिन हम सबका, लहरा लो तिरंगा प्यारा।। गीत की मनमोहक प्रस्तुति दी गयी। इस अवसर पर मा0 विधायक श्री सत्यवीर त्यागी, मा0 एमएलसी श्रीमती सरोजिनी अग्रवाल, आयुक्त सुरेन्द्र सिंह, जिलाधिकारी के0 बालाजी, सीडीओ शशांक चौधरी, एडीएम वित्त सुभाष चन्द्र प्रजापति, नगर मजिस्ट्रेट एसके सिंह सहित अन्य अधिकारीगण, स्वतंत्रता संग्राम सैनानी व उनके परिजन तथा शहीद सैनिकों के परिजन, स्काउट, सिविल डिफेन्स आदि कि लोग उपस्थित रहे।

Leave a reply