घर मे पड़ी थी पिता की लाश, दूसरी और संपत्ति को लेकर आपस में लड़ रहे थे दो बेटे।

0
43

मेरठ। पिता की संपति के लिए रिटार्ड पुलिसकर्मी के बेटों ने एक दूसरे पर संपति हड़पने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। इस दौरान एक बेटे का परिवार पोस्टमार्टम न करने के लिए गढ़ रोड पर सड़क पर लेट गया और उन्होंने हंगामा किया। मृतक पुलिसकर्मी के एक बेटे ने अपने भाई, उसकी पत्नी और बेटे पर संपत्ति हड़पने को लेकर पिता की हत्या का आरोप लगाकर कार्रवाई की मांग की है।
71 वर्षीय श्रीराम लोहियानगर में रह रहे थे। घर में वह और उनके दो बेटे अलग-अलग मंजिल पर रह रहे थे। करीब बारह वर्ष पूर्व वह पुलिस विभाग से रिटायर्ड हुए थे। उनके तीन बेटे मुकेश, नरेश और दिनेश हैं। दिनेश ने आरोप लगाया कि उनके पिता का बीमारी का उपचार चल रहा था।
पिता श्रीराम ने अपने बड़े बेटे मुकेश उसकी पत्नी और पोते प्रशांत पर धोखाधड़ी से संपत्ति हड़पने का कोर्ट में वाद दायर कर रखा था। आरोप है कि मामले में  शुक्रवार को उनके पिता की गवाही थी। आरोपित मुकेश अपने परिजनों के साथ पिता को अपने घर जबरन ले गया। पीडि़त ने सूचना पुलिस को दी थी लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। आरोप है कि मुकेश ने अपनी पत्नी और बेटे प्रशांत के साथ मिलकर पिता की हत्या कर दी।
उधर, सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया। वही,आरोपित बेटा मुकेश अपने परिजनों के साथ मेडिकल कॉलेज पहुंचा और गढ़ रोड पर लेटकर जाम लगाने का प्रयास करते हुए पोस्टमार्टम न कराने की मांग की। पुलिसकर्मियों ने उसे समझाकर शांत किया। सीओ किठौर ब्रजेश सिंह ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामले में कार्रवाई की जाएगी।

Leave a reply