छात्रों को ढाल बनाकर युवा नेता करने लगे राजनीति।

0
28

मेरठ। अपने भविष्य को लेकर चिंतित दसवीं-बारहवीं के छात्रों पर कुछ युवा नेता राजनीति करते नजर आए। इस बीच कोरोना की तीसरी लहर को लेकर बरती जा रही सावधानियों की भी जमकर अनदेखी की गई।

आप को बता दे मंगलवार को जिला मुख्यालय पर अपनी मांगों को लेकर पहुंचे यूपी बोर्ड के छात्रों की अच्छी खासी संख्या नजर आई। लेकिन इन छात्रों को मोहरा बनाकर राजनीति करने पहुंचे कुछ युवा नेता नारेबाजी करने लगे। एक तरफ जहां छात्रों में अपने भविष्य को लेकर चिंता है ।तो दूसरी ओर युवा नेता इस मोके पर अपनी राजनीति चमकाने में जुटे रहे। सभी पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने अपनी राजनीति चमकाने के लिए इन पढ़ने वाले बच्चों को अपना ढाल बना लिया है। छात्र अपनी मांगों को लेकर कई बार धरना दे चुके हैं लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई है जिसको लेकर छात्र आज फिर धरना देने पहुंचे तो उन्हें ढाल बनाकर सभी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अपनी राजनीति चमकानी चाहि और जिलाधिकारी कार्यालय पर बैठकर नारेबाजी करनी शुरू कर दी। नारेबाजी के साथ साथ ही पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बदसलूकी अभद्र व्यवहार करना शुरू कर दिया ।और इन बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ यह छात्र शांतिपूर्वक अपनी मांग को लेकर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा रहे थे ।लेकिन राजनीतिक पाटियों के कार्यकर्ताओं ने बच्चों को ही ढाल बनाकर अपनी राजनीति करनी शुरू कर दी है।

Leave a reply