ब्राह्मणों के हाथों में होगी इस बार यूपी की कमान: शैलेंद्र शर्मा

0
85

नई दिल्ली: ब्राह्मण समाज के अधिकार में लगातार आवाज उठाने वाले शैलेंद्र शर्मा ने कहा कि सरकार ब्राह्मणों को भूलकर बहुत बड़ी गलती कर रही है। यूपी की योगी सरकार में जो ब्राह्मणों पर अत्याचार हुआ है, उसे वो भूल चुकी है।

तीन दशक से मंडल और कमंडल की राजनीती की प्रयोगशाला रहे प्रदेश में इस बार ब्राह्मण की आवाज को दबाने का प्रयास किया जा रहा है. जाती बनाम धर्म की राजनीती में इस बार सबकी नजर ब्राह्मण पर टिकी हुई है. ब्राह्मणों को तय करना होगा की कौन राजा ब्राह्मणों के बारे में कितना सोचता है. ब्राह्मणों को अपनी तरफ आकर्षित करने का ही नतीजा है कि अखिलेश यादव ने पशुराम भगवान की प्रतिमा बनाने का ऐलान किया तो वहीँ बसपा ने भी पशुराम भगवान के सम्मान को बढ़ाने का वादा कर दिया. कांग्रेस पहले ही प्रदेश में ब्राह्मणों पर हो रहे अत्याचारों का आरोप लगा चुकी है. यानी हर कोई ब्राह्मणों को अपनी तरफ आकर्षित करने का प्रयास करने में लगा हुआ है. भाजपा सरकार कुर्सी पर बने रहने के लिए आज वो दलित-पिछड़ों और अति पिछड़ों की पार्टी बनती जा रही है, लेकिन उत्तर-प्रदेश में भाजपा के कोर वोटर स्वर्ण ही रहे हैं, इस क्रम में ब्राह्मण समाज अपने आप को ठगा महसूस कर रहा है.

Leave a reply