1 सितंबर से खुल रहे है बच्चों के स्कूल, स्कूल में एंट्री लेने के लिए बच्चों को करना पड़ेगा इन गाइडलाइनों का पालन।

0
60

मेरठ। 1 सितंबर यानी बुधवार से कक्षा एक से पांच तक कि कक्षाएं भी शुरू होंगी। स्कूलों में बच्चों के स्वागत की तैयारी की गई है। जिसके तहत स्कूल में आने वाले बच्चों का तिलक कर और फूल देकर स्वागत किया जाएगा। कोरोना काल में इन बच्चों की भी ऑफलाइन पढ़ाई की भी शुरुआत के साथ ही ऑनलाइन पढाई भी जारी रहेगी।
क्लासों का समय किया गया अलग
मेरठ में अधिकांश पब्लिक स्कूल सुबह 8 बजे ही खुलेंगे। मगर कक्षाओं का संचालन को लेकर स्कूलों में अलग-अलग समय निर्धारित कर रखा है। अधिकार स्कूल द्वारा कक्षा एक से पांच तक के बच्चों के लिए अलग समय, कक्षा छह से सात तक के बच्चों के लिए अलग समय और कक्षा कक्षा आठ से 12 के लिए अलग-अलग समय तय किया है। कक्षा के संचालन के बारे में अभिभावकों को स्कूल प्रशासन की ओर से पहले ही जानकारी दे दी गई है।
कोरेाना गाइडलाइन का होगा पालन, नहीं होगा लंच ब्रेक
स्कूल संचालकों का दावा है कि बच्चों की सुरक्षा के लिए भी कोरोना गाइडलाइंस का पूरा पालन गंभीरता से किया जाएगा। इसके साथ ही स्कूल में किसी प्रकार का लंच ब्रेक नहीं किया जाएगा। स्कूल गेट पर बच्चों का टेंपरेचर चेक करके ही प्रवेश दिया जाएगा। इसके अलावा हर बच्चे को अनिवार्य रूप से सैनिटाइजर उपलब्ध कराया जाएगा। बिना मास्क के किसी भी बच्चे, स्टाफ व शिक्षक का प्रवेश स्कूल के अंदर प्रतिबंधित रहेगा। स्कूल में कोविड 19 को लेकर जारी एसओपी का अनिवार्य रूप से पालन कराया जा रहा है। कक्षा एक से पांच तक के बच्चों के लिए खास इंतजाम की गए हैं। उनकी निगरानी के लिए अतिरिक्त स्टाफ़ भी लगाया जाएगा। एक सितंबर से खुल रहे स्कूलों में तिलक लगाकर और फूलों से होगा बच्चों का स्वागत
1 सितंबर यानी बुधवार से कक्षा एक से पांच तक कि कक्षाएं भी शुरू होंगी। स्कूलों में बच्चों के स्वागत की तैयारी की गई है। जिसके तहत स्कूल में आने वाले बच्चों का तिलक कर और फूल देकर स्वागत किया जाएगा। कोरोना काल में इन बच्चों की भी ऑफलाइन पढ़ाई की भी शुरुआत के साथ ही ऑनलाइन पढाई भी जारी रहेगी।

Leave a reply