छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में तीन दिनों से बरस रहे बादल:दीवार ढहने से बच्ची की मौत, रायपुर में थाने की बाउंड्री वॉल गिरी,स्कूलों में 5 तक छुट्टी

छत्तीसगढ़ के कई जिलों में तीन दिनों से हो रही बारिश से नदी-नाले उफान पर हैं। गौरेला में कच्चा मकान ढहने से 10 साल की बच्ची की मौत हो गई। गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले में 60 घंटे से लगातार वर्षा हो रही है। आने वाले दिनों में भी यहां भारी बारिश के आसार हैं। इसे देखते हुए जिले में सभी निजी और सरकारी स्कूलों में 4 और 5 अगस्त को छुट्टी घोषित की गई है।

रायपुर में लगातार हो रही बारिश के कारण टिकरापारा थाना की बाउंड्री वाल ढह गई, जिसकी चपेट में आने से दो वाहन क्षतिग्रस्त हो गए हैं। हादसे के वक्त घटनास्थल पर किसी व्यक्ति के नहीं होने से बड़ा हादसा टल गया। किसी भी व्यक्ति को चोट नहीं आई है।

मौसम विभाग ने छत्तीसगढ़ के 4 संभागों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। रायपुर, बिलासपुर, सरगुजा और दुर्ग संभाग के लिए ये चेतावनी जारी की गई है। प्रदेश के कई हिस्सों में लगातार हो रही बारिश के बाद 6 जिलों में हालात ऐसे हैं, जहां औसत बारिश सामान्य से ज्यादा दर्ज की गई है। सरगुजा के हालात भी पहले से सुधरे हैं और आने वाले दिनों में होने वाली बारिश से स्थिति सामान्य होने की उम्मीद की जा रही है।

बीजापुर जिले में 54 फीसदी ज्यादा बारिश हो चुकी है। इसी तरह सुकमा जिले में 39 प्रतिशत और राजधानी रायपुर में 36 प्रतिशत औसत से ज्यादा बारिश हुई है, बालोद जिले में 25 फीसदी ज्यादा औसत बारिश दर्ज की गई है।

बीते दिनों प्रदेश के 10 जिलों में सामान्य से कम बारिश की स्थिति थी लेकिन पिछले 2 से 3 दिनों तक हुई वर्षा के बाद ये संख्या घटकर आधी हो गई है। अब केवल 5 जिले ही ऐसे हैं, जहां कम बारिश रिकॉर्ड की गई है। इधर रायपुर में हुई बारिश से शहर के कई इलाकों में जलभराव की स्थिति देखने को मिली। पानी सड़कों में बहता रहा। यहां भाठागांव के सरकारी स्कूल में भी बच्चों को जलभराव की वजह से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

इन जिलों में हुई बारिश
राज्य के मध्य और उत्तर छत्तीसगढ़ में बादल जमकर बरसे हैं। रायगढ़ में 222.7 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। सूरजपुर जिले में 157.6 मिमी, मुंगेली में 145 मिमी, बिलासपुर 117.6 मिमी और कोरबा जिले में 116.4 मिलीमीटर बारिश हुई है।

इसी तरह कोरिया जिले में 112.2 मिलीमीटर बारिश हुई है। महासमुंद जिले में 112, सरगुजा में 105.8 मिमी, जांजगीर जिले में 99.1 मिमी, रायपुर में 97.9 मिमी, जशपुर जिले में 96.6,बलौदा बाजार 92.5 मिमी, बेमेतरा जिले में 77 मिमी बारिश हुई है। इधर कबीरधाम जिले में 68.7 मिमी,राजनांदगांव में 67.6 मिमी और बलरामपुर जिले में 64. 6 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है।

अगले 24 घंटे कैसा रहेगा मौसम
मौसम विशेषज्ञ एचपी चंद्रा ने बताया कि एक अवदाब झारखंड और उससे लगे उत्तर छत्तीसगढ़ के ऊपर अंबिकापुर से पूर्व में 95 किलोमीटर दूर स्थित है। इसके प्रभाव से प्रदेश के सरगुजा संभाग के एक-दो जिले, बिलासपुर संभाग के जिले और इससे लगे दुर्ग और रायपुर संभाग के जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है।

इसके अलावा एक अवदाब उत्तर छत्तीसगढ़ और आसपास के क्षेत्र में स्थित है जो 17 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से पश्चिम- उत्तर -पश्चिम दिशा में आगे बढ़ रहा है। इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ते हुए उत्तर-पूर्व मध्य प्रदेश उससे लगे दक्षिण-पूर्व उत्तर प्रदेश के ऊपर पहुंचकर चिन्हित निम्न दाब के रूप में अगले 12 घंटे में बदलने की संभावना है।

इधर मानसूनी द्रोणिका अमृतसर, करनाल, मेरठ, हमीरपुर, अवदाब के केंद्र, बालासोर और उसके बाद पूर्व की ओर उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी तक है। इन सबके असर से प्रदेश में कई जगह बारिश होने की संभावना है।

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (GPM) जिले के नवागांव में गुरुवार को कच्चे मकान की दीवार ढहने से 10 साल की बच्ची वर्षिका कंवर की मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और बच्ची के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया।

  • rammandir-ramlala

Related Articles

Back to top button