खोपड़ी खुली, पसलियां टूटीं, ब्रेन मैटर गायब, 40 चोटों ने बताई अंजलि के साथ हुए भयावह हादसे की दास्तान

कंझावला सड़क हादसे में युवती की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि अंजलि का ब्रेन मैटर गायब था और दोनों फेफड़े साफ नजर आ रहे थे.
0
77

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हुए कंझावला सड़क हादसे  में मृतका अंजलि सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दिल दहला देने वाली जानकारियां सामने आई हैं. अंजलि की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, उसकी खोपड़ी खुल गई थी, सिर के हड्डियां टूट गई थीं, पसलियां छाती के पीछे की ओर से निकल गई थीं. मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज के तीन डॉक्टरों के पैनल ने अंजलि सिंह के शव का परीक्षण किया था.

अंजलि सिंह की ऑटोप्सी रिपोर्ट में कहा गया है कि सिर, रीढ़, बांयीं जांघ की हड्डी और दोनों फेफड़ों में गंभीर चोटों की वजह से शव की ये हालत हुई. रिपोर्ट में कहा गया है कि सदमे और ज्यादा खून बहने की वजह से अंजलि सिंह की मौत हुई है. इसी तरह की 40 गंभीर चोटों का अंजलि सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जिक्र है.

तेज टक्कर और घसीटे जाने से लगीं सभी चोटें

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि एक साथ लगी इतनी चोटें सामान्य तौर पर मौत की वजह बन सकती हैं. हालांकि, सिर, रीढ़ की हड्डी, लंबी हड्डियों और अन्य चोटों की गंभीरता भी मौत का कारण बन सकती हैं. सभी चोटें तेज गति से हुई टक्कर और घसीटे जाने की वजह से लगना संभव है. हालांकि, अंतिम राय कैमेकिल एनालिसिस और बॉयोलॉजिकल सैंपल की रिपोर्ट मिलने के बाद दी जाएगी.

40 से ज्यादा चोटें, ब्रेन मैटर गायब

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में 40 चोटें दर्ज की गई हैं. जिनमें से ज्यादातर घाव और खरोंच हैं. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि अंजलि का ब्रेन मैटर गायब था और दोनों फेफड़े साफ नजर आ रहे थे. इन सबके बीच दिल्ली पुलिस ने कहा था कि अंजलि के शरीर पर कोई भी ऐसा घाव नहीं था, जो यौन उत्पीड़न की ओर इशारा कर रहा हो.

बता दें कि अंजलि सिंह की मौत बीते रविवार (1 जनवरी) को हुई थी. घर लौटते वक्त एक कार ने उनकी स्कूटी को टक्कर मार दी थी और उनका शरीर कार में फंस गया था. कार सवारों ने कई किमी तक उनके शरीर को घसीटा था. जिसके चलते उनकी मौत हो गई थी. जिस समय अंजलि का शव बरामद हुआ था, उनके कपड़े फटे हुए थे और पीठ बुरी तरह से छिली हुआ थी.

Leave a reply

en_USEnglish