‘The Kashmir Files’ को IFFI जूरी हेड ने बताया ‘प्रोपेगैंडा’, अनुपम खेर-अशोक पंडित ने किया पलटवार

गोवा में हुए IFFI इवेंट में इजरायली फिल्ममेकर Nadav Lapid ने फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' की आलोचना की। जिसके बाद से सोशल मीडिया पर #TheKashmirFiles ट्रेंड हो रहा है।
0
153

साल 2022 की ब्लॉकबस्टर फिल्मों में शुमार विवेक अग्निहोत्री ने फिल्म ‘The Kashmir Files’ को लेकर एक बार फिर नई बहस छिड़ गई है। दरअसल, गोवा में हुए IFFI ‘इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया’ इवेंट में इजरायली फिल्ममेकर Nadav Lapid ने फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर विवादित टिप्पणी की, जिसके बाद से ‘The Kashmir Files’ ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा है और सोशल मीडिया पर फिल्म को लेकर लोग अपनी-अपनी बात रख रहे हैं। Nadav Lapid ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को ‘वल्गर प्रोपेगैंडा’ बताया है। इस पर तीखा रिएक्शन देते हुए अनुपम खेर ने ट्वीट किया है।

‘The Kashmir Files’ में मुख्य किरदार निभा चुके अनुपम खेर ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से फिल्म से जुड़ी कुछ तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा, ‘झूठ की ऊंचाई चाहे कितनी भी ऊंची क्यों न हो.. सच के मुकाबले वह हमेशा छोटा होता है.’ हाल ही में अनुपम खेर ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ के बारे में बोलते हुए कहा था कि इसने दुनिया भर के लोगों को 1990 के दशक में कश्मीरी पंडित समुदाय के साथ हुई त्रासदी के बारे में जागरुक किया है।

वहीं फिल्ममेकर अशोक पंडित ने लिखा, ‘#Israeli फिल्म निर्माता #NadavLapid ने #KashmirFiles को एक अश्लील फिल्म कहकर आतंकवाद के खिलाफ भारत की लड़ाई का मजाक बनाया है। उन्होंने भाजपा सरकार की नाक के नीचे 7 लाख कश्मीरी पंडितों का अपमान किया है। यह #IFFIGoa2022 की विश्वसनीयता के लिए एक बड़ा झटका है। शर्म।’

बता दें कि इजरायली फिल्ममेकर Nadav Lapid ने ईवेंट में कहा, ‘हम सभी 15वीं फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ से परेशान और स्तब्ध थे। यह हमें एक प्रचार, अश्लील फिल्म की तरह लगा, जो इतने प्रतिष्ठित फिल्म समारोह के कलात्मक प्रतिस्पर्धी वर्ग के लिए अनुपयुक्त है।’ ‘द कश्मीर फाइल्स’ इस साल 11 मार्च को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। फिल्म में 1990 के दशक में हिंदू पलायन और कश्मीरी पंडितों की हत्याओं की कहानी दिखाई गई थी। यह फिल्म 2022 की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली बॉलीवुड फिल्मों में से एक है।

Leave a reply

en_USEnglish