ढाबे पर बनी पनीर की सब्जी से हो जाएं सावधान ,यह पनीर हो सकता है हानिकारक, जानिए कैसे।

0
110

मेरठ। पनीर खाने के शौकीन है और यात्रा में पनीर पकोड़ा और पनीर टिक्का के अलावा पनीर से बनी अन्य रेसिपी आपनी पसंदों में शुमार है तो सावधान हो जाए। हाइवे पर स्थित ढाबों और रेंस्टोरेंट में पनीर की बनी रेसिपी के नाम पर यात्रियों और लोगों की सेहत से खिलवाड़ किया जा रहा है। इन ढाबों और होटलों में पनीर से बनी रेसिपी यात्री चटखारे लेकर खाते हैं वो सेहत के लिए खतरनाक ही नहीं बल्कि एक धीमा जहर भी है। इन ढाबों में प्रतिदिन कई किलो नकली पनीर खपा दिया जाता है। ढाबा संचालक ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में ऐसा नकली पनीर प्रयोग करते हैं और यात्रियों की सेहत से खिलवाड़ करते हैं।
बात यदि दिल्ली-हरिद्वार-देहरादून हाइवे की करें या फिर मेरठ-लखनऊ हाइवे की,यहां के ढाबा संचालक ऐसा पनीर बनाने वाले कारोबारियों के सीधे संपर्क में रहते हैं। कई कारोबारी तो नकली पनीर व नकली दूध के उत्पाद बड़े पैमाने पर करते हैं।

घरों में लगी हैं नकली पनीर बनाने की मशीनें
नकली पनीर बनाने वाले इन कारीगरों के घरों में पनीर बनाने की मशीन है। मशीन में एक बार में 50 किलो तक नकली पनीर बनकर तैयार हो जाता है। इस मशीन में सबसे पहले पानी डाला जाता है, जो लगातार गर्म होता रहता है। फिर उसमें दूध पाउडर डाला जाता है। इसके बाद यूरिया, डिटर्जेट, व्हाइट ग्रीस, मैदा व गोंद का मिश्रण किया जाता है। थोड़ी देर में मिश्रण फट जाता है। इसके बाद पानी निकालकर नकली पनीर को ढाबों में भेजा जाता है।

Leave a reply

en_USEnglish