अनाथ व बेसहारा हुए बच्चों को मिलेगा लैपटाप, शादी के लिए मिलेंगे एक लाख रुपये

0
138

मेरठ। कोरोना काल में अनाथ व बेसहारा हुए बच्चों की मदद की तैयारी हर स्तर पर शुरू कर दी गई है। बच्चों को जहां पढ़ाई करने के लिए लैपटाप दिया जाएगा। वहीं मासिक सहायता के रूप में चार हजार रुपये दिए जाएंगे। इसके अलावा बालिग हो चुकी युवती की शादी के लिए भी एक लाख एक हजार रुपये की मदद दी जाएगी। अभी तक सामने आए पात्र बच्चों की आवेदन प्रक्रिया को पूरा कराकर शासन को भेज दिया गया है। जिसके बाद प्रशासन अपने स्‍तर पर जांच के बाद इस योजना का लाभ देगा।
कोरोना महामारी के कारण कुछ बच्चे मां व पिता को खोकर अनाथ हो गए, जबकि कई बच्चे मां या पिता की मौत के बाद बेसहारा स्थिति में पहुंच गए। ऐसे बच्चों की मदद के लिए केंद्र और प्रदेश सरकार ने कई घोषणाएं की है। जिसके बाद स्थानीय स्तर पर बच्चों की मदद के लिए पहल शुरू की गई। अभी तक तलाश अभियान के तहत अनाथ व बेसहारा 85 बच्चे सामने आ चुके हैं। अब इन बच्चों को मदद देने के लिए आवेदन प्रक्रिया पूर्ण कराकर शासन को भेजा जा चुका है। योजना के तहत ऐसे बच्चों को चार हजार प्रतिमाह की आर्थिक सहायता तो दी ही जाएगी। साथ ही नवीं कक्षा या उससे उपर की कक्षा में अध्ययनरत बच्चों को एक लैपटाप भी पढ़ाई के लिए दिया जाएगा।

Leave a reply

en_USEnglish