कुख्यात योगेश भदौड़ा सहित तीन को पांच साल का कारावास

0
143

न्यायालय अपर जिला जज विशेष न्यायाधीश भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम कोर्ट संख्या 2 मेरठ पीएन पांडे ने पुलिस को जान से मारने के प्रयास के एक मामले में वेस्ट यूपी के कुख्यात योगेश भदौड़ा और उसके तीन साथियों को दोषी मानते हुए हुए 5 साल के कठोर कारावास और सात हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया।

गौरतलब है कि वादी मुकदमा राजेश वर्मा तत्कालीन थाना प्रभारी ( थाना परतापुर ) में रिपोर्ट दर्ज कराई कि वो 21 मार्च 2013 को पुलिस बल के साथ बिजलीबंबा बाईपास शताब्दीनगर पर मौजूद थे। उन्होंने जैनपुर की तरफ से दिल्ली रोड की ओर से एक सफेद गाड़ी को तेजी से आते हुए देखा। पुलिस को गाड़ी में बदमाश होने का शक हुआ। पुलिस से थोड़ी दूरी पर आते ही बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस वाले गोली लगने से बाल बाल बचे। पुलिस ने आरोपियों की गाड़ी घेरकर उन्हें दबोच लिया और जेल भेज दिया था। सभी आरोपियों के खिलाफ न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया गया था। न्यायालय ने दोनों पक्षों को सुनकर एवं पत्रावली पर उपलब्ध साक्ष्यों को देखते हुए आरोपियों को जान से मारने के प्रयास में दोषी पाते हुए 5-5 वर्ष कारावास एवं 7-7 हजार रुपये अर्थदंड से दंडित किया ।
एसएसपी मेरठ ने बताया कि योगेश भदौड़ा चिन्हित माफिया है ,उसपर करीब 45 आपराधिक मुकदमे दर्ज और जिनमे से 10 मुकदमे हत्या के हैं । एसएसपी ने बताया कि मेरठ पुलिस द्वारा भदौड़ा और उसके साथियों को सजा दिलाने के लिए 9 महीने से पुलिस पैरवी कर रही थी और आखिरकार उसे सजा मिल गई है । एसएसपी ने बताया कि योगेश फिलहाल सिद्धार्थनगर जेल में बंद है ।

Leave a reply

en_USEnglish