कॉलिज पर फ्रॉडगिरी आरोप लगाते हुए छात्रो ने किया धरना प्रदर्शन

0
38

मेरठ से मोहसिन खान संवाददाता। मेरठ में कुछ छात्रों ने एक निजी कॉलेज पर फ्रॉड गिरी का आरोप लगाया है। जिसको लेकर सैकड़ों छात्र धरना प्रदर्शन करते हुए जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय पर पहुंचे और कॉलेज पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।

छात्रों ने बताया रुड़की रोड पर नीलकंठ कॉलेज स्थित हैए जिसमें हम डी फार्मा के छात्र कॉलेज में 2020 में हमारा डी फार्मा में दाखिला हुआ था। इसके बाद लगातार हमारी क्लासेस चली और यूनिट टेस्ट भी हुए। जिसके बाद हम छात्रों ने प्रैक्टिकल की परीक्षाएं भी दी। 2020-2021 सत्र की परीक्षा समय पर ऑनलाइन परीक्षा यूराइज पोर्टल पर कराई गई। ऑनलाइन रिजल्ट आने के बाद छात्रों को पता चला कि हम छात्रों के नाम की जगह दूसरे छात्रों के नाम व उन्हीं के माता पिता के नाम है। लेकिन फोटो हस्ताक्षर जीमेल आईडी हम छात्रों की है। इस समस्या की शिकायत छात्रों ने कॉलेज प्रशासन से की जिस पर छात्रों को नाम सही हो जाने का आश्वासन मिला। किंतु लगातार तीन महीने तक छात्र कॉलेज के चक्कर काटते रहे लेकिन कोई भी समाधान नहीं हुआ बाद में छात्रों द्वारा जांच पड़ताल करने पर पता चला कि जिन छात्रों ने डी फार्मा प्रथम वर्ष 2020 और 21 में नामांकन कराया था। वह बोर्ड ऑफिस तक नहीं पहुंचा। कॉलेज ने भी छात्रों को धोखे में रखने का काम किया है। इसी धोखाधड़ी को लेकर हम कई बार धरना प्रदर्शन दे चुके हैं लेकिन अभी तक हमारी कहीं भी सुनवाई नहीं हो रही है इसी को लेकर आज हम जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे हैं और अपनी मांग का ज्ञापन सौंपा है अगर हमारी अमाउंट जल्द से जल्द पूरी नहीं होती तो हम सभी छात्र सड़कों पर उतर कर नीलकंठ कॉलेज के गेट पर ताला लगाने का काम करेंगे।

Leave a reply

en_USEnglish