तलाक और तकरार रोकने की नायाब पहल।

0
51

मेरठ। मुस्लिम समाज में बढ़ते तलाक और तकरार के मामलों को देखते हुए अब आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड ने एक अनोखी पहल की है। जिसके तहत अब मुस्लिम युवक और युवतियों को निकाह से पहले एक कोर्स करवाया जाएगा। ये कोर्स छह महीने का होगा। इस कोर्स के माध्यम से निकाह से पहले युवक-युवतियों को शिष्टाचार के साथ ही सफल वैवाहिक जीवन कैसे जिए इसके ​बारे में भी जानकारी दी जाएगी। यह कोर्स आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड तैयार करवा रहा है। बोर्ड का मानना है कि इससे बेवजह तलाक और तकरार के मामले रोके जा सकेंगे। इस छह महीने के कोर्स मेंं नवविवाहित जोड़ों को शरीयत की रोशनी में जिंदगी गुजारने के तरीके बताएं जाएंगे। इसके लिए हर जिले में कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी। महिलाओं के लिए विशेष रूप से दीनी इज्तेमा आयोजित की जाएंगी।
महासचिव मुईन अहमद ने यह जानकारी देते हुए बताया कि आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड निकाह को आसान बनाने, गलत रस्मों को खत्म कर समाज को सुधारने की मुहिम काफी समय से चला रहा है। लोगों को सादगी से निकाह करने और दहेज का लेनदेन बंद करने को लेकर जागरूक किया जा रहा है। शादी के बाद जिंदगी खुशहाल रखने, तलाक और तकरार की नौबत रोकने को भी बोर्ड ने कवायद शुरू की है।

Leave a reply

en_USEnglish