धन्यवाद योगी जी, बगैर रिश्वत के मेरा बेटा बन गया पुलिसवाला, परेड के दौरान बोलीं बागपत निवासी जाहिदा

0
167

सहारनपुर पुलिस लाइंस में पीएसी की पासिंग आउट परेड कार्यक्रम के दौरान एक पल के लिए सबकुछ मानो ठहर सा गया। दर्शक-दीर्घा में बैठी एक महिला अचानक कुर्सी से खड़ी हुई और योगी जिंदाबाद के नारे लगाने लगी। पुलिसकर्मी जब महिला को शांत करने के लिए गए तो महिला बोली, उसका बेटा आज पुलिसवाला बन गया है। यह योगी सरकार में ही संभव है। पिछली सरकारों में उसके दूसरे बेटों ने खूब कोशिश की, लेकिन बिना रिश्वत उनकी भर्ती नहीं हुई।

तीन बेटों की उम्र निकल गई, नसीम की पूरी हुई चाहत  

जाहिदा के चार बेटे हैं, सभी पुलिस की नौकरी करना चाहते थे लेकिन तीन बेटों की अब उम्र निकल गई है। बागपत के गांव मवीकलां निवासी जाहिदा ने बताया कि उनके पति शहीदुद्दीन लोनी में कास्मेटिक उत्पादों का शोरूम चलाते हैं। उनके चार बेटे मोहसिन, वसीम, शाकिब और नसीम मलिक हैं। पिछली सरकारों में उसके तीन बेटों ने पुलिस में भर्ती के लिए कई बार कोशिश की लेकिन वो सफल नहीं हो सके।

बेटों को भर्ती कराने के नाम पर मांगे जाते थे रुपये  

उन्होंने एक व्यक्ति पर आरोप लगाया कि उसके बेटों को भर्ती कराने के नाम पर रुपये मांगे गए लेकिन उन्होंने रकम नहीं दी तो बेटे भर्ती नहीं हो सके। नसीम उस समय छोटा था। जैसे ही भाजपा की सरकार बनी तो जाहिदा ने अपने छोटे बेटे नसीम को तैयारी करने के लिए कहा। जाहिदा का कहना है कि नसीम ने तैयारी शुरू कर दी। योगी की सरकार में पुलिस की भर्ती निकली और बेटे नसीम ने आवेदन कर दिया। जाहिदा ने बताया कि, उस समय कई लोगों ने कहा कि नसीम बिना रिश्वत के भर्ती नहीं होगा। जाहिदा ने योगी पर पूरा विश्वास किया और नसीम को तैयारी कराती रही।

वर्दी पहनकर आया बेटा तो मां की खुशी का नहीं रहा ठिकाना  

मंगलवार को जब नसीम वर्दी पहनकर जाहिदा के सामने आया तो खुशी का ठिकाना नहीं रहा और उसने योगी-मोदी जिंदाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए।

खुशी से झूम उठा पूरा परिवार ,

नसीम ने बताया कि ट्रेनिंग में बहुत कुछ सीखा है। अब पीड़ितों को इंसाफ दिलाएगा। पासिंग आउट परेड में मां जाहिदा, भाई मोहसिन, वसीम व शाकिब और बहनोई सुहैब आए थे। नसीम परेड से जब अपने स्वजन के पास आया तो परिवार खुशी में झूमने लगा। नसीम ने अपनी मां को बाहों में उठा लिया।

Leave a reply

en_USEnglish