मलियाना पुल से युवती ने कूदकर क्यों दी जान देने की कोशिश?

0
75

मेरठ। बागपत रोड स्थित मलियाना ओवरब्रिज से एक युवती ने सोमवार को कूदकर जान देने का प्रयास किया। परिवार के लोग वहां मौजूद थे और उन्होंने उसे बचा लिया। युवती ने एक सप्ताह पहले बुआ के बेटे पर छेड़छाड़ का आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज कराया था। जानकारी के बाद पुलिस पहुंची और बयान दर्ज किए। इसमें युवती ने ओवरब्रिज से गिरना बताया है।
टीपीनगर थानाक्षेत्र में मलियाना ओवरब्रिज के नीचे ही पीड़ित परिवार का घर है। एक सप्ताह पूर्व परिवार के युवती ने बुआ के बेटे पर छेड़छाड़ और दुष्कर्म के प्रयास के आरोप में टीपीनगर थाने में केस दर्ज कराया था। इसमें पुलिस पीड़िता के 161 के बयान दर्ज कर चुकी है और कोर्ट में 164 के बयान दर्ज कराने के लिये सोमवार को बुला रही थी। युवती ने मना कर दिया था। इसी बीच, युवती ने शाम को मलियाना ओवरब्रिज पर जाकर छलांग लगा दी। घटना के समय उसके पिता नीचे खड़े थे। वह बेटी को बार-बार रोकने का प्रयास कर रहे थे, लेकिन वह मानने को तैयार नहीं थी।बताया गया है कि पीड़िता ओवरब्रिज से लगे मकान की छत से ही यहां आई थी। छात्रा कूदी तो पिता और परिवार के अन्य लोगों ने उसे बचा लिया। उन्होंने बेटी को जमीन पर गिरने से पहले ही कपड़ा बांधकर पकड़ने का प्रयास किया था। जिससे छात्रा की जान बच गई। युवती को थोड़ी चोट आई है। उसके पिता के हाथ में फैक्चर बताया गया है। पुलिस ने युवती को निजी अस्पताल में भर्ती कराया।

इसी मामले को लेकर विनीत भटनागर का कहना है युवती ने पारिवारिक विवाद के चलते छेड़छाड़ का केस दर्ज कराया था। तीन दिन पहले भी समझौता के प्रयास किए गए थे। इस मुकदमे में पुलिस अभी जांच कर रही है। युवती ने बंदर के डर से मकान की छत से गिरना बताया है।

Leave a reply

en_USEnglish