सपा ने नहीं खोले अभी पत्ते, भाजपा में दावेदारों की लंबी लाइन, बुधवार तक होंगे नाम फाइनल।

0
76

मेरठ। जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में ब्लॉक प्रमुख पद को लेकर राजनीति गर्म हो रही है। पार्टी से जुड़े लोगों के अपने—अपने दावे हैं। कुछ इलाकों में असंतुष्ट भी मैदान में डटे हैं। इससे राजनीतिक दलों के जुड़े लोगों के समीकरण गड़बड़ा सकते हैं। हालांकि सपा ने तमाम जगहों पर अपने सभी प्रत्याशियों के नाम उजागर कर दिए हैं जबकि भाजपा ने अपने पत्ते अब तक नहीं खोले हैं। भाजपा पश्चिमी क्षेत्र के जिलों में बुधवार तक अपने दावेदारों के नामों की घोषणा करेगी। लेकिन उससे पहले ही ब्लॉक प्रमुख के लिए राजनीतिक हलचल तेज हो चुका है।पश्चिमी क्षेत्र में भाजपा के 14 जिले आते हैं। मेरठ पश्चिमी क्षेत्र के राजनीति का बड़ा केंद्र है। भाजपा पश्चिमी क्षेत्र का मेरठ में कार्यालय भी है। भाजपा पार्टी सूत्रों का कहना है कि संगठन की तरफ से बनाई गई कोर कमेटी ने अधिकांश ब्लॉकों में उम्मीदवारों के नाम फाइनल कर लिए हैं। इसकी घोषणा क्षेत्र स्तर पर की जाएगी। कई उम्मीदवार लखनऊ तक उच्च पदाधिकारियों की परिक्रमा कर रहे हैं। इसमें जातीय समीकरण भी काफी मायने रखेंगे।
अधिसूचना जारी होने के साथ बढ़ी हलचल, बुधवार को पत्‍ते खोलेगी भाजपा
ब्लॉक प्रमुख पद के लिए आठ जुलाई को नामांकन होगा। 10 जुलाई को मतदान होगा। उसी दिन मतगणना भी होगी। यह सूचना मिलते ही सभी उम्मीदवारों में हलचल बढ़ चुकी है। माना जा रहा है कि बुधवार को भाजपा अपने पत्ते खोल सकती है। टिकट वितरण में संगठन से जुड़े पुराने लोगों को भी तरजीत मिल सकती है।
जनपद में इस बार 12 ब्लॉक प्रमुख चुने जाने हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि ब्लॉक प्रमुख पद के प्रत्याशियों के चयन में पश्चिमी क्षेत्र अध्यक्ष और जिलाध्यक्षों की भूमिका महत्वपूर्ण होगी

Leave a reply

en_USEnglish