सात समंदर पार खिल खिलाएगी पुरकाजी की मुस्कान, अमेरिकी कॉलेज बॉबसन से मिली 2.30 करोड़ की स्कॉलरशिप

0
141

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में पुरकाजी कस्बे के पीरपुरा मोहल्ले निवासी राजमिस्त्री अय्यूब अंसारी के घर को बिटिया मुस्कान ने खुशियों से भर दिया है। बेटी ने शिक्षा की मशाल जलाई तो सात समंदर पार अमेरिका तक उम्मीद का उजाला हो गया। बॉबसन कॉलेज ने छात्रा का चयन फुल टाइम स्कॉलरशिप के लिए किया है। अब वह आंत्रेप्रेन्यॉरशिप (उद्यमिता) से स्नातक करेगी। यूनिवर्सिटी की ओर से 2.30 करोड़ की स्कॉलरशिप दी गई है।

 

राजमिस्त्री अय्यूब अंसारी और गृहणी रुखसाना की बेटी मुस्कान अंसारी ने साल 2014 में विद्या ज्ञान की परीक्षा दी थी। परीक्षा पास कर कामयाबी की पहली सीढ़ी पर पैर रखते हुए बुलंदशहर में विद्या ज्ञान स्कूल में पढ़ाई शुरू की। हर साल और हर परीक्षा में मुस्कान ने अच्छे अंक हासिल किए।

दसवीं की परीक्षा में 97.6 प्रतिशत अंक हासिल कर बिटिया ने बता दिया था कि मुश्किलें कभी बाधा नहीं बन सकती। इस साल छात्रा ने 12वीं की परीक्षा दी है, जिसके नतीजों का इंतजार चल रहा है। इससे पहले छात्रा के घर बड़ी खुशी पहुंच गई। अमेरिका के बॉस्टन शहर के बॉबसन कॉलेज से फुल टाइम स्कॉलरशिप का संदेश मिल गया तो परिवार की ईद हो गई।

बॉस्केटबाल की खिलाड़ी भी है मुस्कान
शिक्षा में मुस्कान का भविष्य स्वर्णिम है। साथ ही वह खेल के मैदान पर बॉस्केटबाल में भी हुनर दिखाती है। होनहार को फोटोग्राफी का भी शौक है।

कड़ी मेहनत से मिली कामयाबी
सामान्य परिवार की बेटी मुस्कान ने दृढ़ संकल्प से सफलता हासिल की है। स्नातक की पढ़ाई वह अमेरिका से करेगी।

मां ने कहा कि हमें मुस्कान पर भरोसा था
मां रुखसाना ने कहा कि हमें अपनी बेटी पर पूरा भरोसा था। बचपन से ही पढ़ाई में होशियार थी। प्राथमिक स्कूल में पढ़ाई के दौरान ही विद्या ज्ञान में उसका प्रवेश हो गया था।

बॉबसन के छात्र पहुंचे तो लगी ललक
होनहार मुस्कान में हमेशा कुछ नया करने की ललक रही है। कक्षा नौ की पढ़ाई के दौरान बॉबसन यूनिवर्सिटी के कुछ छात्र-छात्राओं का दल विद्या ज्ञान स्कूल में पहुंचा था। यहीं पर मुस्कान ने उनसे बात की और पढ़ाई को लेकर चर्चा की। भविष्य के अवसरों के विषय में पूछा। छात्र-छात्राओं का दल तो चला गया, लेकिन मुस्कान ने और कड़ी मेहनत से पढ़ाई का संकल्प लिया और कामयाबी हासिल की।

कोरोना संक्रमण काल में किया महिलाओं को जागरूक
कोरोना संक्रमण काल में लॉकडाउन के दिनों में मुस्कान भी घर आ गई थी। इस दौरान उसने किशोरियों, युवतियों और महिलाओं को मासिक धर्म के प्रति जागरूक किया। घर पर सूती कपड़े से पैड बनाने सिखाए। स्वच्छता के विषय में जानकारी दी। बिटिया के इस अभियान को कस्बे से लेकर विद्या ज्ञान स्कूल की ओर से भी सराहना मिली।

Leave a reply

en_USEnglish