काला रिबन बांधकर मेला ना लगने को लेकर किया विरोध

0
18

मेरठ । हस्तिनापुर के मखदुमपुर गंगा घाट पर कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर 5 दिवसीय मेले का आयोजन होता था। लोग अपने पूर्वजों की आत्मा की शांति के लिए प्रति वर्ष लाखों की संख्या में मखदुमपुर जाते थे। इस मेले का आयोजन जिला पंचायत द्वारा किया जाता था, लेकिन इस बार भी जिला पंचायत की ओर से इस मेले को नहीं लगाया जा रहा है। जिसको लेकर आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने काला रिबन बांधकर अपना विरोध प्रदर्शन किया है।

विरोध प्रदर्शन के दौरान आम आदमी पार्टी के जिला अध्यक्ष अंकुर चौधरी ने कहा कि मेला ना लगने की वजह से इस बार भी जिला पंचायत ने लाखों लोगों की आस्था के केंद्र मखदुमपुर मेले पर पानी फेर दिया है। क्योंकि समय रहते आयोजन को लेकर की जाने वाली तैयारी नहीं की गई। पूर्व के समय में मेला स्थल पर तैयारी महीनों पहले से शुरू कर दी जाती थी। जिसमें मेले स्थल पर जाने वाली अस्थाई सड़कों का निर्माण करना तंबू की व्यवस्था पीने के पानी के लिए नल की व्यवस्था लाइट की व्यवस्था सफाई की व्यवस्था साउंड की व्यवस्था चिकित्सा की व्यवस्था होती थी, लेकिन जिला पंचायत ने मखदुमपुर मेला स्थगित करने की घोषणा कर दी जबकि मखदुमपुर मेला लाखों हिदुओं की आस्था का केंद्र है। जिसको लेकर आज कमिश्नरी पार्क पर आम आदमी पार्टी के प्रमुख पदाधिकारीयो ने हाथ में काली पट्टी बांधकर सांकेतिक धरना किया। हमारी मांग है कि मेले लगाने की तत्काल व्यवस्था की जाए ताकि मेले के ऐतिहासिक महत्व को बचाया जा सके।

Leave a reply

en_USEnglish