ज्ञानवापी मस्जिद मामले पर क्या बोले असदुद्दीन ओवैसी?

0
45

मुस्लिम पक्ष से मीटिंग के साथ DM कौशल राज शर्मा का बड़ा ऐलान कल यानी शनिवार से शुरू होगा वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे। सभी पक्षों के साथ DM ने ज्ञानवापी मस्जिद मामले पर बैठक की है। और फैसला सुनाने के बाद सभी पक्षों से शांति व्यवस्था बनाने की अपील भी की है।
आपको बता दें इससे पहले ज्ञानवापी मस्जिद का मामला सुप्रीम कोर्ट जा चुका है। जिसके चलते अंजुमन ए इंतजाम या मस्जिद कमेटी ने सर्वे को रोकने की याचिका दायर कर दी थी। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने तुरंत रोक लगाने से इंकार कर दिया और चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एंड वी रमन्ना ने कहा कि मैंने भी याचिका नहीं देखी है सीधा मामले को देखूंगी
वही मुस्लिम पक्ष के वकील हुजैफा अहमदी ने कहा कि हमें तुरंत सुनवाई की जरूरत है क्योंकि सर्वे का आदेश दिया गया है? उन्होंने सुप्रीम कोट से इस मामले को यथास्थिति बनाए रखने का आदेश जारी किया है। जिसके बाद CJI एनवी रमन्ना ने कहा कि अभी हमने पेपर नहीं देखे हैं बिना पेपर देखे कोई आदेश जारी नहीं किया जा सकता।
और सुप्रीम कोर्ट ने फिलहाल यथास्थिति बरकरार रखने का आदेश जारी करने से इंकार कर दिया है हालांकि सुप्रीम कोर्ट इस मामले पर जल्द सुनवाई के लिए तैयार हो गया है।
अंजुमन इंतजाम या मस्जिद प्रबंधन समिति की ओर से दायर याचिका में इलाहाबाद उच्च न्यायालय के 21अप्रैल के आदेश को चुनौती दी गई है।
वही 17 मई से पहले सर्वे कराने के आदेश पर असदुद्दीन ओवैसी का भी बयान आया सामने आया है। 'मौत भी मेरे स्टैंड को बदल नहीं सकती', जानें क्यों बोले ओवैसी - Even death  can't change my stand, Know why Owaisi said this? - eagenda 2020 AajTakओवैसी ने कहा कि हम एक मस्जिद खो चुके हैं दूसरी मस्जिद नहीं खोना चाहते। उन्होंने कहा कि कोर्ट का फैसला गलत है जिसके चलते मस्जिद कमेटी को सुप्रीम कोर्ट जाना चाहिए और सर्वे को रोकना चाहिए। ओवैसी ने कहा कि कोर्ट का फैसला संसद के 91 एक्ट के खिलाफ है। और अगर सरकार एक्ट को खत्म कर दे तो अलग बात है।
ओवैसी ने कहा मैं मुगलों का परोपकार नहीं हूं। बीजेपी इस मामले में सियासी रोटी सेक रही है।

Leave a reply

en_USEnglish