सावन के दूसरे सोमवार पर भी मंदिरों में उमड़ा श्रद्धालुओं का जनसैलाब, महाशिवरात्रि को लेकर भी श्रद्धालुओं के लिए दिए आदेश।

0
89

मेरठ। सावन का दूसरा सोमवार है जिसको लेकर शहर के मंदिरों में जलाभिषेक करने के लिए श्रद्धालुओं का मंदिरों में जनसैलाब सुबह 5:00 बजे से ही में लगने लगा था। कोरोना प्रोटोकॉल के नियमों के साथ श्रद्धालुओं ने मंदिरों में जलाभिषेक किया।

मेरठ का प्रसिद्ध काली पलटन मंदिर में सावन के दूसरे सोमवार को भी श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ा ,लाखों श्रद्धालुओं ने कोरोना प्रोटोकॉल के नियमों के साथ जलाभिषेक किया। और महामारी से निजात दिलाने को लेकर मंदिर में प्रार्थना भी की।

इसी दौरान मंदिर के महामंत्री सचिन सगवाल ने बताया कि हमारा मंदिर सुबह 5:00 बजे से श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया था 5:00 बजे से ही यहां श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ने लगी थी ।और सभी श्रद्धालु को करोना प्रोटोकॉल के नियम का पालन करने के लिए बार-बार अवगत कराया जा रहा है ।

 

मंदिर के गेट पर और मंदिर समिति के अंदर कई जगह बोर्ड लगाए गए हैं कि बिना मार्क्स के मंदिर में प्रवेश ना करें ।लेकिन काफी भीड़ होने के कारण श्रद्धालुओं ने कोरोना प्रोटोकॉल के नियमों की धज्जियां उड़ा दी है। जिसको लेकर प्रशासन और मंदिर समिति के लोग लगातार लोगों से यही विनती कर रहे हैं कि |प्रोटोकॉल नियम का पालन करते हुए ही जलाभिषेक करें क्योंकि करोना अभी गया नहीं गया हम लोगों के बीच में और कुछ समय बाद तीसरी लहर भी आने वाली है । बताया कि महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर मंदिर को पूरी रात खोला जाएगा ताकि श्रद्धालु जलाभिषेक कर सके और मंदिर की व्यवस्था भी बनी रहे महाशिवरात्रि को लेकर मंदिर समिति के लोगों और पुलिस प्रशासन ने पूरी व्यवस्था की हुई है मंदिर के बाहर बैरिकेडिंग की जाएगी सभी आने जाने वाले लोगों की तलाश की जाएगी उसके बाद ही मंदिर में एंट्री दी जाएगी जिस पर मास्क नहीं होगा उसे मंदिर की ओर से मास्क उपलब्ध कराया जाएगा ।बिना मास्क के मंदिर में किसी भी व्यक्ति की एंट्री नहीं होगी।

Leave a reply

en_USEnglish