बंदूक नहीं… अब गरजेगी MADA 9! देखिए कैसी है तालिबान राज में बनी अफ़ग़ानिस्तान की पहली सुपरकार

0
69

हमेशा बंदूक, हिंसा और फतवों के लिए सुर्खियों में रहने वाला देश अफगानिस्तान आज एक बड़े ही अलग वजह के कारण फिर से चर्चा में आ गया है। अफगानिस्तान में इन दिनों एक सुपरकार की धूम मची है और हर कोई इसी कार का नाम ले रहा है। आतंकवादी संगठन तालिबान प्रशासित अफगानिस्तान में पहली बार इंजीनियरों ने एक सुपरकार का खुलासा किया है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, इस सुपरकार का नाम माडा 9 (Mada 9) बताया जा रहा है जिसे काबुल के अफगानिस्तान टेक्निकल वोकेशनल इंस्टीट्यूट (ATVI) के इंजीनियरों ने तैयार किया है। बताया जा रहा है इस कार को तैयार करने में तकरीबन 30 इंजीनियरों ने काम किया है। इसे बनाने में 5 साल से ज्यादा का समय लगा है।

रिपोर्ट्स में यह भी बताया जा रहा है कि इस सुपरकार को तैयार करने में अब तक 40 से 50 हजार डॉलर भी खर्च हो चुके हैं। जानकारी के अनुसार, इस स्पोर्ट्स कार को स्थानीय रूप से विकसित किया गया है और यह अभी अपने कॉन्सेप्ट मॉडल में है जिसमें अभी और काम होना बाकि है। कॉन्सेप्ट मॉडल के चलते इसकी सभी जानकारियां अभी सामने नहीं आई हैं।

इस सुपरकार में टोयोटा कोरोला के फोर-सिलेंडर, 1.8-लीटर इंजन का इस्तेमाल किया गया है। हालांकि, यह इंजन एक सुपरकार जितना पॉवरफुल नहीं है लेकिन इसे अफगानिस्तान के कार इंजीनियरों की एक बड़ी उपलब्धि बताया जा रहा है। इंटरनेट पर इस कार की कुछ तस्वीरें भी वायरल हो रही हैं।

तालिबानी उच्च शिक्षा मंत्री, अब्दुल बाकी हक्कानी ने खुद इस कार का अनावरण किया और कहा कि यह सुपरकार साबित करती है कि तालिबान शासन अपने लोगों के लिए धर्म और आधुनिक विज्ञान प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। यूनाइटेड नेशन (यूएन) में अफगानिस्तान के राजदूत सुहैल शाहीन ने इस कार का एक वीडियो अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल के माध्यम से साझा करते हुए कहा है कि, “अफगान के काबिल नौजवानों को चाहिए कि वो अफगानिस्तान के विकास में अपनी अहम भूमिका अदा करें।”

फिलहाल इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि यह सुपरकार सड़कों पर कब उतारी जाएगी। जानकारी यह भी है कि इस सुपरकार को इस साल कतर में आयोजित होने वाले कार प्रदर्शनी में भी पेश किया जा सकता है।

Leave a reply

en_USEnglish