गांव की समस्या का हल ना होने पर युवक चढ़ा पानी की टंकी पर।

0
124

कंकरखेड़ा के खड़ौली गांव में एक ग्रामीण पानी की टंकी के ऊपर चढ़ गया। गांव में विभिन्न प्रकार के विकास कार्य न होने के विरोध में टंकी पर चढ़ा ग्रामीण कूदने की धमकी देने लगा, जिसे नीचे खड़े अन्य ग्रामीणों ने समझाकर शांत किया। एडीएम, अपर नगरायुकत और इंस्पेक्टर मौके पर पहुंचे, जिन्होंने विकास कार्य की समस्याओं को दूर करने का आश्वासन दिया।

मेरठ जनपद के खड़ौली गांव में वर्षों पहले पानी की टंकी का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है, मगर टंकी में पानी की सप्लाई आज तक नहीं हो सकी। जिस वजह से ग्रामीणों को टंकी बनने के बाद भी कोई फायदा नहीं दिखा। साथ ही गांव का तालाब कूड़े से अटा होने के चलते हल्की सी बरसात में उसका गंदा पानी मोहल्लों में पहुंच जाता है। सरकारी स्कूल में चारदीवारी भी नहीं है। स्कूल में कोई गेट न होने की वजह से आए दिन वहां से सामान चोरी होता है। शौचालय भी खंडहर में तब्दील हो चुका है। घरों में लगे बिजली के मीटरों की तेज रीडिंग हो रही है, जिस वजह से बिल भी पहुंच से बाहर का आता है, जबकि घर में बिजली के उपकरण भी बहुत कम हैं। इन सभी समस्याओं के बारे में संबंधित अधिकारी और जनप्रतिनिधियों को भी अवगत कराया है, मगर आज तक कोई समाधान नहीं हो सका।इन समस्याओं को लेकर दो दिनों से गांव में कुछ ग्रामीण धरने पर भी बैठे हैं। मगर, धरना स्थल पर कोई अधिकारी व जनप्रतिनिधि के न पहुंचने से गुस्साएं खड़ौली गांव निवासी अश्वनी पुत्र विजयपाल शनिवार को पानी की टंकी पर चढ़ गया और नीचे कूदने की धमकी देने लगा। जिसके बाद अधिकारियों ने गांव में उन जगहों का निरीक्षण किया, जहां पर विकास कार्य कराने की मांग की जा रही है। इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर का कहना है कि ग्रामीण को समझाकर उतारने का प्रयास किया जा रहा है, मौके पर आए संबंधित अधिकारी भी मांगों को जल्द पूरा कराने का आश्वासन दे रहे हैं।

Leave a reply

en_USEnglish