देश दुनिया

संसद सिक्योरिटी ब्रेक के 6 किरदार:दो ने सदन में हंगामा, दो ने बाहर प्रदर्शन किया, दो प्लानिंग में शामिल थे; एक-दूसरे से ऑनलाइन मिले थे

संसद पर आतंकी हमले के 22 साल बाद एक बार फिर सुरक्षा में सेंध लगी। लोकसभा में दो युवक विजिटर गैलरी से कूदे और पीले रंग का धुआं उड़ाने लगे। सुरक्षा में सेंध लगाने वाले दोनों लोगों को पहले सांसदों ने पीटा, फिर पुलिस के सुपुर्द कर दिया।

अभी तक की जांच में इस सिक्योरिटी ब्रेक के 6 किरदार सामने आए हैं। दो ने सदन के अंदर हंगामा किया, दो ने सदन के बाहर प्रदर्शन किया। ये चारों पुलिस की गिरफ्त में हैं।

दो और लोग प्लानिंग में शामिल थे, इनमें से एक ने सभी को अपने घर में ठहराया था। उसे पुलिस ने पत्नी समेत हिरासत में ले लिया है। हालांकि, पत्नी इन छह आरोपियों में शामिल नहीं है। एक अभी भी फरार है।

अब आपको इन 6 किरदारों के बारे में बताते हैं….

भाजपा सांसद के विजिटर पास से गए थे दोनों
पुलिस की शुरुआती पूछताछ में सामने आया है कि सागर शर्मा UP के लखनऊ का रहने वाला है। डी मनोरंजन कर्नाटक के मैसुरु से है। संसद के बाहर पकड़ी गई नीलम हरियाणा के हिसार की है। चौथा आरोपी अमोल शिंदे महाराष्ट्र के लातूर का रहने वाला है। सागर शर्मा और डी मनोरंजन लोकसभा में विजिटर गैलरी में बैठे थे। उन्हें भाजपा सांसद प्रताप सिम्हा के कार्यालय से जारी पास पर एंट्री मिली थी।

दिल्ली पुलिस का कहना है कि इन सभी की एक-दूसरे से मुलाकात ऑनलाइन हुई थी। सभी ने मिलकर संसद में हंगामे की योजना बनाई। पुलिस का कहना है कि अभी तक इस बात के सबूत नहीं मिले हैं कि इन सभी को आतंकी समूह ने भड़काया है।

पुलिस ने सागर शर्मा और डी मनोरंजन के आधार कार्ड सहित अन्य जानकारी शेयर की है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, पकड़ी गई नीलम 42 साल की है और पेशे से टीचर है, साथ ही सिविल सेवा की पढ़ाई कर रही है।

  • rammandir-ramlala

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!